ब्रेकिंग न्यूज़

एम्स व हाइड्रो कालेज की प्यास बुझाएगी नई पेयजल योजना, 58 करोड़ होंगे खर्च

एम्स व हाइड्रो कालेज की प्यास बुझाएगी नई पेयजल योजना, 58 करोड़ होंगे खर्च

एम्स व हाइड्रो कालेज की प्यास बुझाएगी नई पेयजल योजना, 58 करोड़ होंगे खर्च

Share Post

केंद्र सरकार के महत्त्वाकांक्षी प्रोजेक्ट कोठीपुरा एम्स और बंदला के हाइड्रो कालेज की प्यास जल शक्ति विभाग की 58 करोड़ की नई पेयजल योजना बुझाएगी।

दोनों महत्त्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स के लिए जल शक्ति विभाग की ओर से नई पेयजल योजना बनाई जा रही है। केंद्र सरकार के महत्त्वाकांक्षी प्रोजेक्ट कोठीपुरा एम्स और बंदला के हाइड्रो कालेज की प्यास जल शक्ति विभाग की 58 करोड़ की नई पेयजल योजना बुझाएगी।

दोनों महत्त्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स के लिए जल शक्ति विभाग की ओर से नई पेयजल योजना बनाई जा रही है। जो कि अगस्त 2021 तक बनकर तैयार होगी। हालांकि अस्थायी तौर पर इन प्रोजेक्ट्स के लिए पानी की व्यवस्था जल शक्ति विभाग द्वारा की गई है।

कालेज की प्यास जल शक्ति विभाग की 58 करोड़ की नई पेयजल योजना बुझाएगी।

कोठीपुरा एम्स के लिए जहां पर अकेले ही 17 लाख लीटर पानी की आपूर्ति इस नई पेयजल योजना से होगी, वहीं शेष चार लाख लीटर पानी की सप्लाई बंदला हाइड्राे कालेज और अन्य का मुहैया करवाई जाएगी।

जानकारी के अनुसार इन दोनों महत्त्वपूर्ण योजनाओं के लिए पानी की व्यवस्था करने के लिए जल शक्ति विभाग द्वारा अलग से कोलडैम से पेयजल योजना बनाई जा रही है, जिसका काम प्रगति पर है। योजना के तहत कोलडैम से कसोहल से पानी को लिफ्ट किया जाएगा।

रोजाना 21 लाख लीटर पानी की आपूर्ति दोनों संस्थानों के लिए की जाएगी। योजना के तहत कसोहल में एक 21 लाख लीटर की क्षमता का वाटर ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाएगा, जिसके लिए यहां पर 21 लाख लीटर की क्षमता वाले टैंक में स्थानांतरित किया जाएगा।

संबंधित टैंक से पानी को लिफ्ट कर धौनकोठी के साथ लगती धार में बने टैंक में डाला जाएगा। यहां से इस पानी को मारकंड के काठपुर में बने टैंक में डाला जाएगा।

यहां से इस पानी को हाइड्रो इंजीनियरिंग कालेज व एम्स के लिए सप्लाई किया जाएगा। एम्स में दिसंबर में ओपीडी व एमबीबीएस की 50 सीटों के लिए ट्रेनिंग शुरू करने की सरकार की योजना है। फिलहाल जल शक्ति विभाग द्वारा एम्स को टैंपरेरी रूप से उनकी मांग के अनुसार पानी की सप्लाई की जा रही है।

ऐसे में अब जल शक्ति विभाग इन संस्थानों की डिमांड के अनुसार इस योजना को तैयार किया है। सरकार द्वारा हाइड्रो इंजीनियरिंग कालेज में भी आगामी शैक्षणिक सत्र से कक्षाएं शुरू करने की योजना है।

कृपया मुझे इंस्टाग्राम पर फॉलो करें – द हिंदुस्तान खबर

कृपया मुझे ट्विटर पर फॉलो करें – द हिंदुस्तान खबर

द हिंदुस्तान खबर डॉट कॉम

0 Reviews

Write a Review


Share Post

Read Previous

देश के इन राज्यों में दीवाली पर शीतलहर की संभावना, चक्रवाती हवाओं के बढ़ते प्रभाव से बारिश की चेतावनी जारी

Read Next

हथनीकुंड बैराज पर गूंजने लगी विदेशी पक्षियों की चहचहा

Leave a Reply

Most Popular