ब्रेकिंग न्यूज़

मशरूम की खेती करने वाले किसान पप्पन गहलोत ने अपने यहां काम करने वाले 10 प्रवासी मजदूरों को फ्लाइट से भेजा उनके घर

विमान से घर लौट रहे मजदूर (फोटो-एएनआई)

विमान से घर लौट रहे मजदूर (फोटो-एएनआई)

Share Post

किसान पप्पन सिंह गहलोत ने उनके खेतों में फंसे मजदूरों को उन्होंने रहने और खाने में कोई कमी नहीं होने दी

कोरोना वायरस (Corona Virus) के संकट के बीच देश विदेश में सभी जगह लॉकडाउन (Lock down) के कारण प्रवासी मजदूर पीड़ित हैं। जबकि श्रमिकों का कामकाज पूरी तरह से ठप हो गया है,कई श्रमिकों की शिकायत है कि मजदूरों को उनके हाल पर ही छोड़ने की और कई मजदूरों की यह भी शिकायत है कि कंपनी के मालिक उनका बकाया भुगतान नहीं कर रहे हैं।

न ही उन्हें घर वापस जाने में मदद कर रहे हैं।दिल्ली (Delhi) के ऐसे ही एक किसान पप्पन सिंह गहलोत हैं. पप्पन सिंह का दावा है कि लॉकडाउन के कारण उनके खेतों में फंसे मजदूरों को उन्होंने रहने और खाने में कोई कमी नहीं होने दी.

अब जब सरकार आवाजाही के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट शुरू कर रही है तो पूरे एतिहात के साथ वे अपने मजदूरों को उनके गांव भेज रहे हैं.पप्पन गहलोत के भाई निरंजन सिंह ने बताया की बहुत से प्रवासी पैदल अपने घर जा रहे हम देखते थे कि पैदल जानेवाले प्रवासी मजदूरों के साथ हादसे हो रहे हैं.खाना और पानी भी नहीं मिल रहा है

हालांकि, पप्पन ने अपनी जिम्मेदारी को पूरा करते हुए अपने मजदूरों को विमान से घर भेज दिया। लेकिन देश में लाखों मजदूर हैं

ऐसे में हमने इन्हें समझाया और इनके खाने-पीने का इंतजाम किया पहले हमने इन सभी की ट्रैन की टिकट करने की कोशिस की लेकिन ट्रैन में टिकट कंफर्म नहीं हो पा रही थीपप्पन गहलोत के यहाँ ये मजदूर 20 सालो से उनके यहाँ खेती में काम कर रहे है

कोरोना महामारी के इस संकट में ये लोग अपने घर जाना चाहते थे. तो पहले हमने ट्रेन की टिकट बुक करने की कोशिस की लेकिन टिकट नहीं मिलने पर प्लेन की टिकट करवा कर उन्हें उनके घर पटना भेजा दिया .उनके सभी मजदूर अपने मालिक पप्पन गहलोत की उदारता से खुश हैं। उनके यहाँ काम करने वाले नवीन राम ने कहा कि, उन्हें विश्वास नहीं हो रहा है कि वह अपने घर वापस लौट रहे है।

मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं विमान में यात्रा कर पाऊंगा। लेकिन मैं मालिक का आभारी हूं। वे प्रवासी मजदूरों की मदद कर रहे हैं। वे सभी का बकाया चुका रहे हैं और सभी को भोजन की भी व्यवस्था कर रहे हैं।

हालांकि, पप्पन ने अपनी जिम्मेदारी को पूरा करते हुए अपने मजदूरों को विमान से घर भेज दिया। लेकिन देश में लाखों मजदूर हैं जो अभी भी अपने घरों तक पहुंचने के लिए सैकड़ों परेशानियों का सामना कर रहे हैं। वहीं, कुछ मजदूर अपना बकाया जमा करने के लिए इंतजार कर रहे

कृपया मुझे इंस्टाग्राम पर फॉलो करें – द हिंदुस्तान खबर

कृपया मुझे ट्विटर पर फॉलो करें – द हिंदुस्तान खबर

द हिंदुस्तान खबर डॉट कॉम

0 Reviews

Write a Review


Share Post

Read Previous

बॉलीवुड अभिनेता धर्मेंद्र भी कर चुके है टिड्डियों के झुण्ड के हमले का सामना

Read Next

कोरोना के लक्षण पाए जाने पर संबित पात्रा को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया

Leave a Reply

Most Popular