ब्रेकिंग न्यूज़

बस 2 और सफल कोशिश की दरकार! फिर चंद्रमा पर होगा चंद्रयान-3

बस 2 और सफल कोशिश की दरकार! फिर चंद्रमा पर होगा चंद्रयान-3

बस 2 और सफल कोशिश की दरकार! फिर चंद्रमा पर होगा चंद्रयान-3

Share Post

भारत का महत्वाकांक्षी तीसरा चंद्र मिशन ‘चंद्रयान-3’ बुधवार को कक्षा में नीचे लाए

जाने की एक और सफल प्रक्रिया से गुजरने के साथ ही चांद की सतह के और नजदीक आ गया. इसरो (ISRO Chandrayaan 3) ने बुधवार को गुड न्यूज दी कि भारत का चंद्रयान, चंद्रमा के और करीब पहुंच गया है और मून की तीसरी कक्षा में सफल एंट्री ले ली. बता दें कि ‘चंद्रयान-3’ का प्रक्षेपण 14 जुलाई को किया गया था

और पांच अगस्त को इसने चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश किया था. हालांकि, अब सवाल है कि आखिर चंद्रयान अब मून से कितना दूर है और सफल लैंडिंग के लिए अब किन-किन चीजों की दरकार है? दरअसल, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने एक ट्वीट में कहा, ‘चंद्रमा की सतह के और नजदीक।

आज की गई प्रक्रिया के बाद चंद्रयान-3 की कक्षा घटकर 174 किमी 1437 किमी रह गई है.’ अब चंद्रयान-3 को चांद के और करीब लाने के लिए दो और सफल कोशिश की जरूरत है, इसके बाद चंद्रयान-3 चांद पर पहुंच जाएगा. इसरो की मानें तो अगली प्रक्रिया 14 अगस्त 2023 को पूर्वाह्न 11:30 से अपराह्न 12:30 बजे के बीच निर्धारित है.

इसरो ने रविवार को भी चंद्रयान को चांद की कक्षा में नीचे लाए जाने की इसी तरह की प्रक्रिया को अंजाम दिया था.

महत्वाकांक्षी मिशन के आगे बढ़ने के साथ ही चंद्रयान-3 की कक्षा को धीरे-धीरे कम करने और इसकी स्थिति चंद्र ध्रुवों के ऊपर करने के लिए इसरो द्वारा सिलसिलेवार कवायद की जा रही है. इसरो सूत्रों के मुताबिक, अंतरिक्ष यान को चंद्रमा के करीब लाने के लिए दो और प्रक्रियाएं की जाएंगी.

इसरों के सूत्र ने कहा कि ये प्रक्रियाएं 14 और 16 अगस्त को 100 किमी की कक्षा तक पहुंचने के लिए की जाएंगी, जिसके बाद लैंडर और रोवर से युक्त ‘लैंडिंग मॉड्यूल’ आगे की प्रक्रिया के तहत ‘प्रपल्शन मॉड्यूल’ से अलग हो जाएगा. इसके बाद, लैंडर के ‘डीबूस्ट’ से गुजरने और 23 अगस्त को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ करने की उम्मीद है.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. www.thehindustankhabar.com पर विस्तार से पढ़ें मनोरंजन की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

द हिंदुस्तान खबर डॉट कॉम


Share Post

Read Previous

राजस्थान में मानसून ने लिया यूटर्न तो संकट में आया राजस्थान

Read Next

नूंह हिंसा के 12 दिन बाद आज से खुलेंगे स्कूल, सिर्फ घंटे मिलेगी एटीएम और बैंक की सर्विस

Leave a Reply

Most Popular